Home हिन्दी दादी माँ के मुख से

दादी माँ के मुख से

सोनू के पापा ने एक बहुत बड़ा बंगला बनवाया था, जो शहर की आबादी से जरा हटकर था |  यहाँ सोनू का परिवार खुश था, लेकिन सोनू बहुत परेशान था |  उसके परिवार के असपास उसका कोई दोस्त नहीं...
सिन्नी एक छोटा-सा मेमना था |  वह अपनी माँ सन्नो के साथ चंदन वन में रहता था |  वह हरे-भरे पौधों और झाड़ियों के पत्ते खाता |  नदी का ठंडा पानी पीता |  इस प्रकार वह दिन भर अपनी...
बच्चे की जिद और तेनालीराम दादी माँ के मुख से एक बार  राजदरबार में किसी जरूरी मामले पर सोच-विचार होना था | ंपर तेनालीराम अभी तज नहीं पहुँचा था |  राजा कृष्णदेव राय गुस्सा थे |  तभी तेनालीराम ताजी से आता...
टंपु बंदर खुद को बड़ा स्मार्ट समझता था |  जींस और शर्ट पहनकर हीरो बना चश्मा चढ़ाए मोबाइल पर बातें करता सड़क पर चल रहा था |  तभी 'धड़ाम'  की आवाज़ के साथ वह सड़क पर पड़ी किसी चीज़...
गौतम और शुभम दो दोस्त थे |  उन्हें स्कींइग करने का बड़ा शौक था |  जब भी मौका मिलता , वे स्कींइग करने पहुँच जाते |  एक दिन वे दोनों स्कींइग का आनंद ले रहे थे |  एक दूसरे...
जाॅन और रोहन के पापा सेना में अफसर थे |  उनकी पोस्टिंग कश्मीर में थी |  जाॅन और रोहन की स्कीइंग में बहुत रूचि थी |  जब भी छुट्टियाँ होती, वे स्कीइंग करते |  इस बार वे नए साल...
वह थी तो ७० वर्ष की बुढ़िया, फिर भी अपनी जिद में वह सात साल के बच्चे की तरह थी |  उसके छोटे से मोहल्ले में बच्चे उसे बुढ़िया रानी पुकारते थे |  एक हाथ में लाठी  और दूसरे...
सैमुअल जैक्सन पक्का जहाजी था, परन्तु बहादुर और होशियार सैमुअल हमेशा परेशान रहता |  उसकी परेशानी का कारण था, उसकाअपना कद जो पूरा सात फुट और सात इंच था |  अपने लंबे कद के कारण, उसे अन्य लोगों के...
सौंदर्य और शौर्य की प्रतीक - वीर गुजरी दादी माँ के मुख से पहाडियों के प्राकृतिक परकोटों से फैला हुआ घना जंगल और कल-कल बहती हुई राई नदी |  पास ही बसी थी गूजरों की बस्ती | ग्वालियर के राजा मानसिंह ने...
नंदन वन के कई बच्चे नए साल के पहले दिन सुबह गार्डन जा रहे थे |  रास्ते में तेल गिरा था |  उसे देखकर नन्हे ब्लैकी भालू ने कहा -'सड़क पर तेल गिरा होने से दुर्घटना हो सकती है...

FOLLOW US

0FansLike
62,673FollowersFollow
2,511SubscribersSubscribe
- Advertisement -

RECENT POSTS